Breaking News

Government Teacher Job's information in detail: क्या आप भी सरकारी शिक्षक बनना चाहते हैं तो जानिए क्या है योग्यता और सेलरी, डिटेल्स

Government Teacher Job's information in detail: क्या आप भी सरकारी शिक्षक बनना चाहते हैं तो जानिए क्या है योग्यता और सेलरी, डिटेल्स 


Govt Teacher Naukri : बहुत सारे स्टूडेंट्स students 12वीं के बाद से ही टीचर teacher बनने का सपना देखने लगते हैं। पर सही गाइडलाइन Guidelines न मिलने की वजह से वे अपने लक्ष्य को पूरा नहीं कर पाते हैं इस पेशे में जाना पहले से कहीं ज्यादा मुश्किल हो गया है। केंद्र और राज्य सरकार Government ने टीचर techers बनने के लिए हर स्तर पर अलग मापदंड बना दिए हैं जिन्हें क्रैक करने के बाद ही आप इस प्रोफेशन professional में जा सकते हैं. इस नौकरी job's में जाने से पहले आपको इसके बारे में विस्तार से समझना होगा.


B.Ed, TET, CTET अनिवार्य एग्जाम हैं जिन्हें पास करने के बाद ही आप टीचर teacher के लिए योग्य प्रतिभागी माने जाते हैं. बीएड bed में दाखिले के लिए PRE.B.ED बीएड या PTET एग्जाम देना होता है. इस एग्जाम exam के जरिए इंस्टीट्यूट में बीएड bed के लिए एडमिशन Admission होता है।


टीचर बनने की योग्यता


टीचर teacher बनने के लिए पहले आपको इस बात को तय करना होता है की आप किस क्लास Class के स्टूडेंट्स Students को पढ़ाना चाहते हैं. इसके बाद ही आप चुनिंदा ग्रेड के लिए तैयारी कर सकते हैं. गवर्नमेंट Government की तरफ से टीचिंग के लिए तीन ग्रेड तय किए गए हैं. इन तीनों ग्रेड को प्राइमरी टीचर यानि पीआरटी , ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर यानि टीजीटी और पोस्ट ग्रेजुएट टीचर यानि पीजीटी TGT में बांटा गया है. इसे अच्छी तरह से समझने के लिए पहले प्राइमरी primary फिर टीजीटी TGT इसके बाद पीजीटी TGT की योग्यता और चयन प्रक्रिया जानते हैं.


टीचर बनने के लिए उम्र कितनी होनी चाहिए?


टीचर teacher बनने के लिए हर स्तर पर उम्र का अलग क्राइटेरिया है. अगर आप प्राथमिक स्तर के लिए अप्लाई कर रहे हैं तो आपकी उम्र Year 18 से 35 वर्ष Year होनी अनिवार्य है. जबकि टीजीटी TGT ग्रेड और पीजीटी PGT दोनों ग्रेड के लिए समान आयु सीमा 21 से 40 साल Year के बीच होनी चाहिए. रिज़र्व वर्ग के लिए आयु सीमा में छूट का प्रावधान है.


प्राइमरी टीचर के लिए योग्यता


1.प्राइमरी टीचर Primary techer बनने के लिए आपको आर्ट, साइंस या फिर कॉमर्स किसी भी स्ट्रीम से 50 प्रतिशत अंको से 12वीं पास होना चाहिए.


2.अगर आप टीचर teacher बनना चाहते हैं तो 12वीं पास करने के बाद टीचर ट्रेनिंग कोर्स जैसे NTT , BSTC , D.EL.ED करना चाहिए. यह कोर्स Course आपके B.ED. के विकल्प के तौर पर होते हैं. यह सभी कोर्स Course दो साल Years के होते हैं जिसमे आप प्राइमरी टीचिंग स्किल्स के बारे में पढ़ाई study करते हैं।


इन कोर्स में एडमिशन Admission लेने के लिए पहले आपको प्री BSTC टीचर या Pre D. EL.ED की परीक्षा Exam देनी होती है. इसके बाद ही किसी संस्थान में कोर्स को करने के लिए दाखिला मिलता है ।


प्राईमरी टीचर के लिए राज्य या केंद्र सरकार द्वारा आयोजित परीक्षा पास करना अनिवार्य


1.ट्रेनिंग कोर्स पूरा होने के बाद राज्य सरकार द्वारा आयोजित TET या केंद्र स्तर पर आयोजित CTET एग्जाम क्वालीफाई करना होता है. इस एग्जाम में बैठने के लिए कोई आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है. टीईटी की परीक्षा क्वालीफाई करने के लिए कम से कम 60 प्रतिशत नंबर लाने जरूरी हैं. अलग अलग राज्यों में टीईटी की परीक्षा अपने लेवल पर राज्य सरकार खुद कराती है।


पोस्ट ग्रेजुएट टीचर बनने की योग्यता


पीजीटी TGT यानि पोस्ट ग्रेजुएट टीचर 11वीं और 12वीं क्लास को पढ़ाता है. किसी भी स्ट्रीम में 50 Percentage नंबरों से 12वीं पास होना चाहिए. इसके बाद इंटीग्रेटेड कोर्स यानि ग्रेजुएशन और बीएड BED दोनों मिलाकर पूरा किया होना चाहिए. इसके अलावा अगर आपके पास पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री है तो इसके बाद बीएड कोर्स Course पूरा करने के बाद ही आप पीजीटी टीचर बनने के लिए योग्य प्रतिभागी होंगे।


जानिए क्या होती है टीचर की सैलरी


सैलरी Sallery का ग्रेड भी राज्य या फिर केंद्र सरकार Government ने टीचिंग teaching ग्रेड के अनुसार तय कर रखा है. प्राइमरी टीचर primary teacher का वेतन 37,0000 रु प्रतिमाह होता है. टीजीटी TGT टीचर के लिए सैलरी Sallery 44 ,000 रुपए महीना mahina होती है जबकि पीजीटी TGT की सैलरी sallery सबसे ज्यादा होती है. इनकी मासिक सैलरी 47,600 से 1,51,000 होती है.

कोई टिप्पणी नहीं